Past News & Events

Past News


आने वाले समय में भारत की भूमिका - डाo मनमोहन जी वैद्य।

वैश्विक परिदृश्य तेजी से बदल रहा है। आने वाले समय मे एशिया और विशेषकर भारत की भूमिका निर्णायक एवं महत्वपूर्ण होने वाली है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक में इसी विषय को केंद्र में रखते हुए संघ की प्रेरणा से चल रहे विविध संस्थाओं के संगठन मंत्रियों ने तीन दिन अपने अनुभव परस्पर साझा किए और विमर्श किया। रविवार को वृंदावन के केशवधाम में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक के समापन के अवसर पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बैठक में सामाजिक समरसता, कुटुम्ब प्रबोधन, सीमा क्षेत्र में समाज जागरण, देश के समक्ष आर्थिक चुनोतियों पर भी विचार-विमर्श किया गया। श्री वैद्य ने कहा कि आज भी जाति भेद एक बडी समस्या है। संघ का स्पष्ट मत है कि हम सब इस पवित्र भूमि की संतान हैं और कही कोई भेद नही रहे । इसी तरह परिवार विखंडन को रोकने के लिये कुटुम्भ का प्रबोधन, समाज में संस्कार का निर्माण समय की आवश्यकता है। श्री वैद्य ने कहा कि संघ का स्पष्ट मत है कि देश की प्रगति का आधार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को प्रमुखता से मजबूत करना और लघु-कुटीर उद्योग धंधों को सुदृढ़ करने में ही है। उन्होंने कहा कि देश के विकास में समाज की भी महत्वपूर्ण भूमिका है, मात्र सरकार के भरोसे पर चलने से कुछ नही होगा। संघ समाज जीवन से जुड़ा संगठन है और शाखा के माध्यम से शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलंबन, कला आदि क्षेत्रों में कार्य कर रहा है।

Date |2017-09-03

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की समन्वय बैठक

तस्वीर वृंदावन में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की समन्वय बैठक की है | इस बैठक में संघ और उसके अनुसांगिक संगठनों के पदाधिकारी इकट्ठा हुए हैं और इन पदाधिकारियों की बैठक में पीछे से तीसरी पंक्ति में भाजपा का यह सबसे ताकतवर चेहरा भी नज़र आ रहा है. साथ में हैं भाजपा के महामंत्री रामलाल जी | संघ की बैठक में अनुशासन ऐसी तमाम ताकतों को दरकिनार कर बड़े से बड़े नेता को एक स्वयंसेवक तक सीमित कर देता है, ऐसा उदाहरण वामदलों के अलावा किसी और राजनीतिक पार्टी में अब देखने को नहीं मिलता |

Date |2017-09-01

योग शिक्षक प्रशिक्षण वर्ग (D.Y.Ed.) संपन्न - गुवाहाटी

सेवा भारती, पूर्वांचल के तत्ववधान में गत 9 जुलाई से 29 जुलाई 2017 तक 21 दिवसीय आवासीय "योग शिक्षक प्रशिक्षण वर्ग(D.Y.Ed.)" का सफल आयोजन "सेवा संकल्प" प्रकल्प, आदिंगिरि, शंकरदेव नगर, मालिगाँव, गुवाहाटी, असम में किया गया। वर्ग मे असम के 13 जिलों के 49 युवक- युवतियों ने भाग लिया। प्रशिक्षित कुशल वरिष्ठ 20 योग शिक्षकों ने प्रात: 4 बजे से रात्रि 10 बजे तक की कठोर दिनचर्या के अंतर्गत सभी शिक्षार्थियों को "योग विद्या गुरूकुल, नाशिक,महाराष्ट्र" के योग डिप्लोमा कोर्स का पालन करते हुए आसन,प्राणायाम, प्राकृतिक चिकित्सा, शरीर विज्ञान, आहार-विहार एवं दिनचर्या-ऋतुचर्या का गहन शिक्षण, अध्ययन एवं अभ्यास कराया। वर्ग में 14 दिन पूर्व व्याख्यान सत्र में आध्यात्मिक, सांस्कृतिक, राष्ट्रीयता तथा सामाजिक विषयों पर विभिन्न वक्ताओं ने अपने विचार प्रस्तुत किए। वर्ग में मुख्य रूप से योग विद्या गुरूकुल, नाशिक के सभापति श्रीकांत चिटणीस, सचिव श्री एस.डी.पारगाँवकर, योग गुरूकुल असम के उपसभापति श्री हिमाद्री पुरूकायस्थ, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र प्रचारक श्री उल्हास कुलकर्णी, क्षेत्र सेवा प्रमुख श्री राजेश देशकर, सेवा भारती, पूर्वांचल के क्षेत्र संगठन मंत्री नरेश कुमार विकल,प्रांत संगठन मंत्री विपुल कुमार डेका, ASTC के MD श्री आनंद प्रकाश तिवारी, आयुष के प्रोग्राम मैनेजर डॉ.मुकुद देवनाथ ने विभिन्न विषयों पर अपने विचार प्रस्तुत किए। वर्ग में शिक्षार्थियों के गहन शिक्षण, अध्ययन एवं अभ्यास के लिए सामूहिक सत्रों के साथ - साथ छोटे गटों में अनुभवी वरिष्ठ योग शिक्षक व शिक्षिकाओं जुनू बरा,जुनमुनि बरा, निवेदिता बरा, रूबल मिश्रा, रामचरण डेका, पारसमणि, दीजेन दास, संजीव दास, भास्कर हजारिका, अरूप ज्योति दास, गौतम दास आदि की देखरेख में गहनता से शिक्षण , अभ्यास एवं परीक्षा को पूर्ण किया गया। वर्ग का समापन समारोह दिनांक 29 जुलाई, शनिवार को सायं 4:30 बजे वर्ग स्थान पर संपन्न हुआ। समापन समारोह में मुख्य अतिथि नेशनल आयुष मिशन,असम की निदेशक श्रीमती बर्नाली डेका (IAS)तथा अध्यक्षता सेवा भारती, पूर्वांचल के अध्यक्ष श्री मनोरंजन शिल ने की। समारोह में शिक्षार्थियों द्वारा विभिन्न आसनों का सामूहिक एवं व्यक्तिगत प्रदर्शन किया गया। मुख्य अतिथि श्रीमती बर्नाली डेका ने शिक्षार्थियों के प्रदर्शन की काफी सराहना की । श्रीमती डेका ने कहा कि सनातन भारतीय संस्कृति में महर्षि पतंजलि के द्वारा योग के रूप में विश्व को अनूठी देन है। आसन,प्राणायाम, योग की विभिन्न क्रियाओं-मुद्राओं, संयमित आहार-विहार, दिनचर्या आदि यौगिक विषयों का जीवन में पालन करके संपूर्ण विश्व में शांति तथा मानव जीवन को सुखी बनाया जा सकता है। आयुष, असम ने योग के प्रचार-प्रसार , प्रशिक्षण एवं अध्ययन के लिए व्यापक योजना तैयार की है जिसके प्रथम चरण में असम के 100 खंड विकास केंद्रों पर नियमित योग केंद्रों का संचालन असम सरकार की सहायता से विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा किया जायेगा। योग काउंसिल का गठन भी शीघ्र होगा। नव प्रशिक्षित योग शिक्षक व शिक्षिकाओं का आह्वान करते श्रीमती डेका ने कहा कि योग विषय को जीवन में धारण करते हुए परिश्रम से अधिक अध्ययन, अभ्यास एवं प्रशिक्षण से योग्य योगाचार्य के रूप में आगे बढ़ना है। श्रीमती डेका ने शिक्षार्थियों को योग विद्या गुरूकुल, नाशिक का प्रमाणपत्र भी भेंट किया। सेवा भारती, पूर्वांचल के पूर्णकालीन कार्यकर्ता तथा तिनसुकिया विभाग के योग संयोजक अरूप ज्योति दास ने वर्ग का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया । कल्याण मंत्र "सर्वे भवंतु सुखिनः.....के सुमधुर उच्चारण के साथ उत्साह पूर्ण वातावरण में योग शिक्षक प्रशिक्षण वर्ग का समापन समारोह संपन्न हुआ।

Date |2017-07-29

With 11,000 Volunteers, Sewa Vibhag Quietly Makes Its Mark On Bihar Flood Relief

Quietly and unobtrusively, the ideological parent of the BJP - the Rashtriya Swayamsewak Sangh (RSS) is making its mark among the Bihar flood victims. Activists of six RSS affiliates, namely, Sewa Bharati, Ganga Samagrah, Vanvasi Kalyan Ashram, Bajrang Dal, Akhil Bharatiya Vidyarthi Parishad and Vishwa Hindu Parishad, have fanned out in the state’s flood-hit districts to provide relief including food, medicines and survival apparatus to the victims. “About 11,000 of our workers are in the service of the flood victims. We have reached out to about 66,000 victims so far. We are supplying them food packets and medicines every day”, said Amarendra Kumar Singh of the RSS who is in overall charge of relief operations. “Our relief efforts are concentrated in marooned, remote villages which we reach by hiring private boats. This is never easy as boats are scarce. However, these are villages the government agencies have not been able to reach,” Singh claimed. It’s a claim the state government has rubbished. The relief work by the RSS affiliates is in contrast to Bihar’s main opposition party - the BJP - which is largely perceived to have confined its flood relief activism in the state to pressurising the state government to do more for the victims of the calamity that has affected over 35 lakh people spread across 12 districts of the state. Although assembly elections in Bihar are not due for another four years, the RSS outreach stands to bring it closer to large sections of other backward classes and extremely backward castes, which constitute a bulk of flood victims. These classes were believed to played a big role in deciding the outcome of the November 2015 assembly poll in which the RJD-JD (U)-Congress ‘grand alliance’ crushed the BJP-led NDA, winning 178 of the 243 assembly seats. No wonder, RSS’ Singh said the relief efforts by its affiliates were made all the more harder by discouragement from the government machinery. “At times our boats laden with relief materials have been seized. At another time, we were told not to use our banner on the relief boats,” Singh added. Senior BJP leader Sushil Modi said the government did not want any private agency or party to take credit for the relief work. “That is why NGOs have been debarred from visiting government relief camps,” he added. Citing another example, Modi said a private body serving food to flood victims at Bakhtiarpur, about 40 km east of Patna, was pulled up by a local officer for serving food on leaf plates instead of stainless steel utensils. “They were also warned that a security situation may arise. So they wound up and left,” he added. Bihar minister for disaster management Chandra Shekhar hit back, saying if private agencies were allowed in relief camps there would be anarchy. “An impression should not gain ground that the government is doing nothing for flood victims”, he added. Shekhar said the RSS’ claim to providing flood relief was just hot air. “They are nowhere to be seen. Besides, the union government, controlled by the RSS, is doing nothing for flood victims. Central ministers do aerial surveys and return to Delhi without giving any anything,” he rued.

Date |2016-09-02

Another Milestone for Rashtriya Sewa Bharati

Aug 21, 2016 marked yet another milestone for Seva Bharathi and Sewa International in supporting the victims of 2015 Tamil Nadu floods. As part of rehab work, we will provide healthcare facilities at the doorstep of the underprivileged affected during 2015 floods. In partnership a Mobile Medical Unit(MMU) will be deployed to provide healthcare to residents of 12 identified slums in Chennai, Tamil Nadu

Date |2016-08-21

They only live who live for other rest are more dead than alive

Quoting Swami Vivekananda’s famous words, “They only live who live for others, the rest are more dead than alive”, Suruji called one and all to come forward and dedicate their time to the service of society and fellow countrymen. Swami Amaresh Chaitanya of Chinmaya Mission, and Swami Vinayamrita Chaitanya of Mata Amritanandamayi Math, who graced the occasion, addressed the gathering and handed over the keysof the MMU

Date |2016-08-16

MMU will be operated in Technical Collaboration

The MMU will be operated in technical collaboration with Chakra multispecialty hospital, under the guidance of Dr.Sathyanarayanan who was also present on the occasion. Assisted by a Seva bharathi Tamil Nadu project coordinator, the medical team from Chakra hospital comprising of a General Physician (GP), a paramedic, and, a pharmacist will visit each of the 12 locations with an average of 500+ families, once a week.

Date |2016-08-16

Invitataion - Vandemataram Prathibha Awards 2016 - SSC Toppers Of Govt School Students - Kindly Attend

Since last eight years Vandemataram Foundation has been felicitating SSC toppers of Government schools from each district along with their parents and concerned headmasters. These children yet again proved that we can achieve anything with willpower and dedication and we believe these students can be tremendous change agents in their respective communities. To celebrate the success of these students and to give a memorable experience we planned a Aerial trip around the Hyderabad for all the successful students at Flytech aviation academy, B.N Reddy Nagar, Hyderabad on 06th June 2016, 8:30 A.M. We cordially invite you for Prathibha Awards - 2016 to felicitate SSC Toppers of Govt. School Students along with their parents and concerned Headmasters and along with them we also planned to felicitate the Headmasters from government schools with 100% results in SSC of Telangana State on Tuesday, 07th June, 10 A.M at Ravindra Bharathi, Hyderabad. Kindly grace the occasion and bless these young achievers.

Date |2016-06-06